भारत में सात से आठ साल तक जारी रहेगा बुल मार्केट: विजय केडिया

भारतीय बुल मार्केट का पैग़मबर और अटुल ऑटो के निदेशक, विजय केडिया, ने मनीकंट्रोल के साथ एक साक्षात्कार में कहा कि वे मानते हैं कि बुल मार्केट भारत में 7-8 साल तक जारी रहेगा।

पारेग़मबरी यात्रियों की तरह, भारतीय बुल मार्केट भी शताब्दी या वंदे भारत ट्रेनों की तरह है।

उनके बीच-बीच में थमने के बावजूद, वे लम्बी दूरी तय करते हैं, विजय केडिया ने मनीकंट्रोल से एक interview में बताया। उन्हें यह आशा है कि भारत के बुल मार्केट का उद्घाटन 7-8 साल तक जारी रहेगा।

भारतीय बाजार में बुलिश स्थिति को बनाए रखने की उम्मीद रखने वाले केडिया का मानना है कि यह एक बहुत ही वैश्विक प्रवृत्ति है

उन्होंने जर्मनी को उदाहरण के रूप में उठाया। जर्मनी वो पहली विकसित देश था जिसने चल रहे मंदी की सूचना दी, हालांकि उसी दौरान उसके DAX 30 निर्माण मूल्य ने एक अद्वितीय उच्चतम स्तर की सूचना दी। ऐसा ही मामला संयुक्त राज्यों के साथ भी है, जहां, मंदी के भय के बावजूद, संयुक्त राज्य सूचकांक नए उच्चतम स्तरों तक पहुँच रहे हैं।

वर्तमान में DAX सूचकांक 30 अगस्त 2023 को 1:45 बजे 15,944.17 पर व्यापारिक है और नासद्क 15,376.55 पर व्यापारिक है, उसी समय दौरान

विजय केडिया के विचारों के अनुसार भारतीय बुल मार्केट की बुलिश स्थिति आगामी 7 से 8 साल तक बनी रहने की संभावना है। उनके अनुसार, छोटी रुकावटों के बावजूद, बाजार की दिशा स्थिर है।

यह भी पढ़े: रिलायंस की रणनीतिक परिवर्तन: निदेशक मंडल में तीन अंबानी वंश के सभी वंशजों की शामिली

Leave a Comment